पृष्ठ

2 फ़रवरी 2011

आहा हिंदी में लिखना सिख लिया

दोस्तों, बरी मेहनत से हिंदी में लिखना सिख लिया ...........

धन्यवाद्.

7 टिप्‍पणियां:

  1. ब्लॉग जगत में आप का स्वागत है|
    बहुत सुंदर

    उत्तर देंहटाएं
  2. मेरी नई पोस्ट पर आपका स्वागत है

    "गौ माता की करूँ पुकार सुनिए....." देखियेगा और अपने अनुपम विचारों से

    हमारा मार्गदर्शन करें.

    आप भी सादर आमंत्रित हैं,
    http://sawaisinghrajprohit.blogspot.com पर आकर हमारा हौसला बढाऐ और हमें भी धन्य करें...

    आपका अपना सवाई

    उत्तर देंहटाएं
  3. स्वागत है। आप ने हिन्दी में लिखना सीख लिया, उस के लिए बधाई। आप जवान आदमी हैं। कंप्यूटर पर हिन्दी शुद्ध टाइप करना हो तो इन्स्क्रिप्ट हिन्दी सीखो। आसान है। आप आसान हिन्दी टाइपिंग ट्यूटर डाउनलोड करो। रोज आधा घंटा अभ्यास करेंगे तो आसानी से एक माह में हिन्दी में गति के साथ टाइप करने लगेंगे और बिलकुल शुद्ध टाइप करेंगे।

    और ये टिप्पणी पर से वर्ड वेरीफिकेशन हटाओ।

    उत्तर देंहटाएं
  4. @swamiji .... abhar padharne ka.....

    @d.d dadda ..... bahut achha laga apki tippani
    padhkar.........pranam.

    उत्तर देंहटाएं
  5. .

    बरी मेहनत से चिरिया ने
    आपके ब्लॉग के पन्ने पर
    सजावट की है पंजों से.

    बरी मेहनत से संजय जी
    पेर के ऊपर चर पाए.
    संतुष्ट हैं अपने पंजों से.
    ______________

    प्रिय संजय जी,
    ड़ [d] और ढ/ढ़ [dh] से ही बनते हैं. जब आप d और dh टाइप करेंगे तो backspace मारने पर टाइप शब्द के एकाधिक विकल्प दिखाएगा उनमें से आप उपयुक्त चुन सकते हैं. फिर आपकी वर्तनी भी शुद्ध हो जायेगी.
    मैंने जो कविता लिखी है वह आपसे छेड़छाड़ के उद्देश्य से लिखी है. बुरा ना मानियेगा. प्रेम है आपसे.
    पेर = पेड़
    चिरिया = चिड़िया
    बरी = बड़ी

    जब हम बड़ी ई की मात्रा किसी शब्द के आगे लगाना चाहते हैं तब दो बार इंग्लिश 'की' के आई को दबायेगा. इसी तरह छोटी इ के लिये एक बार. अभ्यास से आप सीख ही जायेंगे.
    शुभकामनाएँ.

    .

    उत्तर देंहटाएं
  6. शाबाश.... अच्छा प्रयास है ! शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  7. आपको गोवर्धन अथवा अन्नकूट पर्व की हार्दिक मंगल कामनाएं,

    उत्तर देंहटाएं

सभ्य भाषा में आपकी कोई भी प्रितिक्रिया हमें अच्छी लगेगी.....